Register Now

Login

Lost Password

Lost your password? Please enter your email address. You will receive a link and will create a new password via email.

Login

Register Now

Register with Holistic Ayurveda to ask your health queries and concerns. Get free health suggestions and advices by experts and other forum members. You can also help others by sharing your own experience regarding any health issue.

स्पर्मैक कैप्सूल के फायदे

स्पर्मैक कैप्सूल के फायदे

स्पर्मैक कैप्सूल आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से तैयार किया जाता है। यह उन लोगो के लिए जो अपने शुक्राणु की संख्या, वीर्य की मात्रा, शक्ति और प्रजनन क्षमता को प्राकृतिक तरीके से बढ़ाने चाहते है वो भी बिना किसी दुष्प्रभावों के। ऐसे पुरुष इस आयुर्वेदिक कैप्सूल का सेवन कर सकते हैं।

स्पर्मैक कैप्सूल पुरुषों के प्रजनन प्रणाली को स्वस्थ बनाये रखता है और शुक्राणुओं के उत्पादन की संख्या में बढ़ोतरी करता है। साथ ही यह अन्य विकारो और संक्रमण से बचता है जिससे पुरुष एक स्वस्थ जीवन जी सकता है।

शुक्राणु बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय

आयुर्वेद में गोखरू, शिलाजीत, कौंच बीज, सफ़ेद मूसली और शतावरी आदि जड़ी बूटियों को शुक्राणु की कमी के इलाज में कारगार बताया गया है। इन सभी जड़ी बूटियों को अन्य असरदारक जड़ी बूटियों के साथ मिला कर स्पर्मैक कैप्सूल बनाया गया है जो शुक्राणु संख्या और वीर्य की मात्रा और गुणवत्ता को बढ़ाने में सहायक है।

यह हर्बल कैप्सूल सभी समस्याओं का प्रभावी ढंग से इलाज करता है और कम समय में पुरुष समस्या से राहत प्रदान करता है। भारत में आप स्पर्मैक कैप्सूल ऑनलाइन खरीद सकते हैं और संभोग सुख और संतुष्टि प्राप्त कर सकते हैं।

स्पर्मैक कैप्सूल के लाभ

Benefits of Spermac Capsules in Hindi

  • स्वस्थ शुक्राणुओं की अधिक संख्या में वृद्धि करता है।
  • 50% से अधिक गतिशील शुक्राणु का उत्पादन करता है।
  • उच्च कामेच्छा और सेक्स करने की क्षमता को बढ़ाता है।
  • आगे बढ़ने में शुक्राणुओं को 30% से अधिक तेजी देता है।
  • उच्च वीर्य की मात्रा बढ़ाता है।
  • स्वस्थ प्रोस्टेट और वृषण कार्य को बनाये रखता है।
  • उच्च प्रतिरक्षा और स्वस्थ हार्मोन के संतुलन को बनाये रखता है।

स्पर्मैक कैप्सूल की जड़ी-बूटियां

गोखरू फल, शुद्ध शिलाजीत, कौंच बीज, सफ़ेद मूसली, शतावरी, अश्वगंधा, जायफल, लौह, विदारीकंद, कुतकी, कलोंजी, नागबला, पीपल, जावित्री, मकोय, अभ्रक, श्वेत जीरा, कहु, अकरकरा, लौंग, तेजपत्ता और दालचीनी

इस्तेमाल के लिए निर्देश

स्पर्मैक कैप्सूल को भोजन ग्रहण करने के बाद दूध या पानी के साथ ले सकते हैं। इस कैप्सूल को आप दिन में दो बार ले सकते हैं। अच्छे परिणाम के लिए इस कैप्सूल का सेवन आप 3-4 महीनों तक कर सकते हैं।

  • हिंदी में स्पर्मैक कैप्सूल के फायदे और नुकसान
  • वीर्य के उत्पादन और गुणवत्ता में वृद्धि करता है।
  • शक्तिशाली वीर्य स्खलन उत्पन्न करता है।
  • उत्तेजना और तीव्रता को बढ़ाता है।
  • शरीर के स्वास्थ्य और प्रजनन अंगों के प्रदर्शन में सुधार लाता है।
  • सहनशक्ति, ऊर्जा का स्तर और जीवन शक्ति को बढ़ाता है।
  • यह उत्पाद सिर्फ हमारी वेबसाइट होलिस्टिक आयुर्वेदा डॉट इन पर ही उपलब्ध है।

धोखाधड़ी और नकली उत्पादों से बचने के लिए आप हमारी वेबसाइट होलिस्टिक आयुर्वेदा डॉट इन के माध्यम से ही स्पर्मैक कैप्सूल खरीदें।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

शुक्राणु की कमी के प्रमुख कारण क्या हैं?

Reason of Low Semen Volume in Hindi

  • वैरीकोसेल और अनडिसेन्डिड वृषण
  • यौन संचारित संक्रमण
  • मूत्र पथ में होने वाले संक्रमण
  • शुक्राणु वाहिनी में दोष और क्रोमोसोम दोष
  • मोटापा और हार्मोन असंतुलन
  • शराब या नशीली दवाओं का दुरुपयोग
  • तनाव, अवसाद या अनिद्रा

क्या स्पर्मैक कैप्सूल किसी भी तरह का दुष्प्रभाव करता है?

जी नहीं, स्पर्मैक कैप्सूल किसी भी तरह के दुष्प्रभावों को उत्पन्न नहीं करता है क्योंकि यह शुद्ध प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से बना है जिसके उपयोग से केवल समस्या का इलाज होता है।

शुक्राणु की संख्या बढ़ाने वाले इस हर्बल कैप्सूल को कितने समय तक लेने की ज़रूरत है?

इस आयुर्वेदिक कैप्सूल को आप लगभग 3 या 4 महीने की अवधि तक नियमित लें। आप चाहे तो इसे लंबे समय तक लेने के लिए स्वतंत्र हैं, हालांकि यह अनिवार्य नहीं है। यह हर्बल कैप्सूल आपके शरीर की जरूरतों, स्थिति और ठीक होने की क्षमता के अनुसार अधिक या कम समय ले सकता है।

वीर्य की मात्रा और शुक्राणु संख्या बढ़ाने वाले इस आयुर्वेदिक कैप्सूल का उपयोग कैसे करें?

सुबह के नाश्ते और रात के खाने के बाद आप इस हर्बल कैप्सूल को पानी या दूध के साथ ले सकते हैं। यदि आप इस हर्बल कैप्सूल का तीन से चार महीनों तक उपभोग करते हैं तो परिणाम भी अच्छे प्राप्त होंगे।

इस हर्बल उपचार के दौरान क्या आहार लेना चाहिये?

इस आयुर्वेदिक उपचार के समय ऐसा कोई खास आहार लेना जरुरी तो नहीं है, लेकिन आप ताज़े फलों और सब्जियों का सेवन करेंगे तो इनसे लाभ जरूर मिलेगा। साथ ही खूब सारा पानी भी पिये जो शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक है। यदि आप बाहरी खाद्य प्रदार्थों से परहेज करें और मिर्च मसाले वाले व्यंजन बंद कर दें तो बेहतर होगा।

मैं भारत में स्पर्मैक कैप्सूल कहाँ से और कैसे खरीद सकता हूं?

भारत में आप स्पर्मैक कैप्सूल हमारी वेबसाइट होलिस्टिक आयुर्वेदा डॉट इन से खरीद सकते हैं। आप स्पर्मैक कैप्सूल कैसे प्राप्त कर सकते हैं, इसके लिए हमने कुछ जानकारी बतायी है जिसकी मदद से आप बैठे -बैठे यह कैप्सूल अपने घर मंगवा सकते हैं।

सबसे पहले होलिस्टिक आयुर्वेदा डॉट इन की वेबसाइट पर जाकर स्पर्मैक कैप्सूल को सेलेक्ट कर बाय नाउ वाले बटन को दबाकर आप खरीदने वाली सूची में जा सकते हैं।

उसके बाद आपको अपनी जानकारी एक फॉर्म में भरनी होगी जैसे: आपका पूरा नाम, दूरभाष नंबर, ईमेल आई डी और पिनकोड भर दें।

फिर भुगतान वाले पेज पर जाकर आप डिलवरी पर नकदी, ऑनलाइन पेमेंट, चेक, बैंक ट्रांसफर (NEFT) और डिमांड ड्राफ्ट (DD) में किसी भी भुगतान विकल्प का चुनाव कर आप प्लेस आर्डर वाले बटन को दबा दें। इससे आपका आर्डर सुनिश्चित हो जाएगा और एक बार भुगतान मिल जाने पर हम आपको ईमेल के माध्यम से आपको उत्पाद की जानकारी भेज देंगे।

आपका ख़रीदा हुआ उत्पाद सावधानी से पैक किया जाएगा और आपके घर पर भेज दिया जाएगा। इसे भेजते वक़्त आपकी निजता का पूरा ध्यान रखा जायेगा। आप तीन से पांच कार्य दिवसों के अंदर स्पर्मैक कैप्सूल अपने दिए हुए पते पर प्राप्त कर सकेंगे।

स्पर्मैक कैप्सूल यहाँ से खरीद सकते हैं

अन्य उपयोगी आयुर्वेदिक कैप्सूल्स

स्पर्मैक कैप्सूल के फायदे
5 (100%) 1 vote

Leave a reply

WhatsApp Ask